wink.pink

एन.एफ.एल . की सामाजिक पहल

जनजीवन खुशहाल - चेहरों पर मुस्कान हम साथ मिलकर कुछ अदभुत कर सकते हैं - मदर टेरेसा

नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड द्वारा चार दशकों से भी अधिक समय से सार्थक कल्याणकारी अभियान चलाये जा रहे हैं। यह अभियान समाज में जीवन के उत्थान पर विशेष प्रभाव डालते हैं।

इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए कंपनी अपने ग्राहकों, कर्मचारियों, शेयरधारकों समाज के साथ ही पर्यावरण के सभी पहलुओं पर जिम्मेदारियों के साथ, अपने कार्यों के प्रभावों हेतु वचनबद्ध है। इसे आगे बढ़ाते हुए, कंपनी समाज के ग्रामीण/उपेक्षित वर्गों की अपेक्षाओं के साथ ही मुख्य रूप से बच्चों की शिक्षा, महिला सशक्तिकरण, स्वास्थ्य एवं सफाई, गांवों के विकास, कौशल विकास आदि क्षेत्रों में अपना बहुमूल्य योगदान देकर सामाजिक कार्यों को पूरा करने कि दिशा में सतत् दृढ़तापूर्वक प्रयासरत है।

कंपनी का उद्देश्य, प्राकृतिक संसाधनो के उपयोग को अपनी दक्षता एवं टिकाउपन से बनाए रखना है। इस सिलसिले में कंपनी ने पुराने एवं दूषित जल निकायों के सुधार एवं रखरखाव के माध्यम से जल सुरक्षा के क्षेत्र में पहल की है। मध्य-भारत के ऐसे क्षेत्र में जहाँ पानी की भीषण कमी की समस्या है वहाँ पर बांध बनाए गए। कंपनी द्वारा दूर-दराज के पिछड़े गांवों में जहां बिजली की समस्या है, वहां पर अपारंपारिक / सौर उर्जा स्रोतों को ध्यान में रखकर अंधकार को दूर करने के लिए सौर लालटेन, पानी गर्म करने के साधनों की स्थापना की गई, साथ ही ग्रामीणों को सौर लालटेन वितरित की गई।

कंपनी अविश्वसनीय रूप से निम्नवर्ग के समुदाय की सामाजिक एवं आर्थिक उन्नति में सक्रिय रूप से योगदान कर, गरीबों के विकास करने एवं गरीबी हटाने में सहायता करती है।

ऐसी स्थिति में कंपनी अपनी कारपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व की गतिविधियों में सरकार के साथ प्राथमिकता के आधार पर कार्यक्रमों को बहुतायत रूप से आयोजित करती है। हाल ही में, कंपनी ने स्वच्छता अभियान एवं कौशल विकास अभियान में भारत सरकार की कई योजनाओं को पूरा किया है। नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड का विश्वास है कि किसी भी उद्योग की सफलता समाज के उत्थान एवं उसके हितधारकों की उन्नति से होती है। इस विश्वास को कारपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व की गतिविधियों के माध्यम से कार्यविन्त किया जा सकता है। जिस प्रकार नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड, खाद/उर्वरक के क्षेत्र में सर्वोच्च है, इसी तरह समाज में अपनी सही एवं सबसे अच्छी भूमिका निभा रही है, ये प्रयास समाज को बेहतर बनाने के लिए सतत् जारी रहेगे।


स्वच्छता : स्वच्छ विद्यालय अभियान

-       स्वच्छ विद्यालय अभियान के अंतर्गत म.प्र., पंजाब और हरियाणा के विद्यालयों में शौचालय बनाए गये

-       जैव-शौचालयों का निर्माण पर्यावरण के अनुकूल तकनीक को अपनाकर किया गया


वर्ष 2014 में भारत के प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान के आव्हान पर, नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड ने विभिन्न राज्यों के शासकीय विद्यालयों में शौचालयों को निर्माण, रख-रखाव एवं सुरक्षा हेतु पहल की। नेशनल फर्टिलाईज़र्स लिमिटेड द्वारा देश के विभिन्न राज्यों - मध्य-प्रदेश, पंजाब, हरियाणा एवं हिमाचल प्रदेश में 100 से भी अधिक शौचालयों का निर्माण सफलतापूर्वक किया गया। इसके साथ ही शौचालयों में पानी की व्यवस्था को भी सुचारू बनाने हेतु उनका रखरखाब सुनिश्चित किया, जिससे यह शौचालय भविष्य में स्वच्छ रहे। उपरोक्त सभी विद्यालयों में कम्पनी ने पीने के पानी की उचित व्यवस्था के लिए पानी के टैंक का निर्माण करके साफ़ पानी की व्यवस्था सुनिश्चित की। इसके साथ ही नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड ने मध्य-प्रदेश में तीन वर्ष तक शौचालयों की सफाई और रख-रखाव की भी जिम्मेदारी ली है।

पानीपत के विद्यालयों में जैव-शौचालयों का निर्माण कर कम्पनी ने स्वच्छता तकनीक की दिशा में एक नया कदम उठाया।कम्पनी पानीपत इकाई ने दीवाना एवं गोयलाखुर्द गांवों के सरकारी विद्यालयों में जैव-शौचालयों के निर्माण की योजना प्रारंभ की।

जैव-शौचालय पर्यावरण अनुकूल सुविधा प्रदान करते हैं। इनके रखरखाव पर कोई खर्च नहीं होता और सफाई जैविक प्रक्रिया द्वारा होती है, इसलिए कंपनी ने इसे अपनाया है। इन परियोजनाओं के कारण छात्रों की उपस्थिति बढ़ी तथा उनका शारीरिक व मानसिक मनोबल बढ़ा।


पर्यावरण सुरक्षा

-       सौर-उर्जा का उपयोग कर, उर्जा की बचत

-       सौर-उर्जा को उत्तराखंड के दूरस्थ पहाड़ी क्षेत्रों तक पहुंचाया

-       हरियाणा पानीपत के विद्यालयों में सौर रोशनी की व्यवस्था

-       नूह-मेवात (हरियाणा) एवं इंदौर (मध्य-प्रदेश) के गांवों में सिटी कम्पोस्ट के उपयोग से मृदा स्वास्थ्य प्रबंध

-       मुफ्त मिट्टी स्वास्थ परीक्षण के लिए एएएस मिट्टी परीक्षण उपकरण स्थापित किया

-       मध्य-प्रदेश, यू.पी., पंजाब एवं हरियाणा में कृषकों के लिए व्यापक मिट्टी नमूना परीक्षण किया

-       मध्य-प्रदेश के गावों के लिए सम्पूर्ण गांव की मिट्टी संगरचना के नक्शे तैयार किए

भारतीय कृषि के सामने आज सबसे बडी चुनौती उत्पादन में वृद्धि हेतु मिट्टी की गुणवत्ता बनाए रखना है। कृषि को अनेक चुनौतियों जैसे कि मिट्टी की गुणवत्ता में खाद का असंतुलित उपयोग तथा घटता भूजल स्तर का सामना करना पड़ रहा है। कृषि कार्य की दिशा में मध्य-प्रदेश, हरियाणा पंजाब के गांवों में मुख्य एवं सूक्ष्म पोषक तत्वों की जाँच करने के लिए नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड द्वारा नि:शुल्क मिट्टी परीक्षण के कार्यक्रम चलाए गए। इसके अतिरिक्त, कंपनी निरंतर विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से खाद के सही उपयोग के बारे में जागरूकता बढ़ाने एवं संबंधित पुस्तकें वितरण करने के कार्य कर रही है। किसानों को शिक्षित करने के लिए उन्हें मिट्टी की जानकारी के बारे में बताया गया एवं गांव की मिट्टी के नक्शों को पंचायत को सौंप दिया गया।

कारपोरट सामाजिक उत्तरदायित्व के कार्यक्रम के अंतर्गत 10 गांवों हरियाणा एवं मध्य-प्रदेश में से 5 गांव प्रत्येक राज्य से गोद लेकर उन्हें रसोईघर एवं शहरी कूडे से बनी जैविक खाद के उपयोग हेतु उत्साहित करने हेतु प्रदर्शन प्लाट लगाए। इस योजना के तहत, किसानों को नि:शुल्क खाद की आपूर्ति की गई, खेतों में ब्लॉक प्रदर्शन किया गया एवं कम्पोस्ट खाद के बारे में जागरूकता फैलाने हेतु किसानों के लिए शिक्षा के कार्यक्रम आयोजित किए गए । कम्पोस्ट खाद से खेती में उत्पादन बढ़ने के फलस्वरूप उसके प्रति किसानों की प्रतिक्रिया भी उत्साहजनक रही।

उपरोक्त के अतिरिक्त, कंपनी पिछले कई वर्षों से सौर उर्जा जैसे - उर्जा-स्त्रोतों के माध्यम से ग्रामीण विद्युतीकरण के लिए सतत् कार्य कर रही है। कंपनी ने 200 से अधिक सौर लाईट स्थापित कीं एवं उत्तराखंड के दूरस्थ गांवों में 100 से अधिक सौर लालटेन भी वितरित की हैं। ये ऐसे गांव थे, जिनमें मुख्य सड़क से दूर होने एवं पहाड़ी पर स्थित होने के कारण किसी भी तरह की प्रकाश व्यवस्था नहीं हो पा रही थी। कम्पनी के इस प्रयास से केवल उजाला ही नहीं आया, बल्कि उज्जवल भविष्य की आशा भी जगी है। इस परियोजना के विस्तार से घरों के कार्य-समय में वृद्धि के साथ ही रात में सड़कों पर रोशनी के कारण सुरक्षा भी बढ़ी है।


स्वास्थ्य सुविधा

-       नोएडा, भठिंडा, नंगल एवं फिरोज़ाबाद में विभिन्न दिव्यांग व्यक्तियों के लिए सहायक उपकरण तथा अन्य उपकरणों का वितरण

-       अरूणाचल प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्र सेप्पा जिले में एम्बूलेंस की उपलब्धता

-       भठिंडा में कैंसर जागरूकता एवं स्वास्थ्य परीक्षण शिविर

-       भठिंडा के अस्पताल में आमजन के लिए कैंसर की जाँच हेतु ब्रॉन्कोस्कोप यंत्र की उपलब्धता

नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड अपने कार्यालय एवं संयंत्रों / इकाईयों के आसपास रहने वाले आमजन को स्वास्थ्य - सुविधा उपलब्ध कराने में विशेष प्रयासरत है। कैंसर की रोकथाम हेतु पंजाब के भठिंडा में कैंसर से अत्याधिक पीड़ित क्षेत्र है, इस लिए कैंसर की जाँच हेतु भठिंडा इकाई के आसपास नियमित कैंसर जागरूकता शिविर लगाए गए। इस प्रकार के शिविर पंजाब राज्य सरकार के सहयोग से आयोजित किए गए।

इन प्रयासों का आगे बढ़ाते हुए कंपनी संगरूर में होमी भावा कैंसर अस्पताल में कैंसर का पता लगाने वाला उपकरण ब्रोन्कोस्कॉप उपकरण प्रदान करने जा रही है। वहाँ पर प्राय: बडे पैमाने पर आमजन में कैंसर का पता लगाने वाला परीक्षण नि:शुल्क किए जाते हैं। इसकी सहायता से अस्पताल को मरीजों का इलाज करने में काफी सहयोग प्राप्त होगा। नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड के जाँच एवं जागरूकता शिविरों से बहुत से ग्रामीणों को लाभ हुआ। इन शिविरों में जागरूकता हेतु अध्ययन सामाग्री भी नि:शुल्क वितरित की गई।

एक अन्य विशेष अभियान में विभिन्न दिव्यांग व्यक्तियों को उनकी आजीविका के लिए सहायक उपकरण जैसे - पहियों वाली कुर्सी, चलने में असमर्थ दिव्यांग मरीज हेतु उपयोगी बैसाखी (कैलीपर्स), सुनने वाली मशीन, कृत्रिम अंग, स्वचालित वाहन आदि उपलब्ध करवाए गए। उपरोक्त साधन नोएडा, भठिंडा, फिरोज़ाबाद और नंगल में आयोजित शिविरों में वितरित किए गए । उत्तरपूर्व में अरूणाचल प्रदेश के दूरदराज के क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के उद्देश्य से कंपनी ने दो एम्बूलेंस जिला प्रशासन सेप्पा को प्रदान किए। ये एंबूलेंस इस क्षेत्र के लोगों की जीवन-सुरक्षा के रूप में कार्यरत हैं एवं सेप्पा (अरूणाचल प्रदेश) के आसपास के क्षेत्र के जरूरतमंद लोगों को बेहतर राहत एवं चिकित्सा सुविधा प्रदान करेंगी, साथ ही गरीब वर्ग के मरीजों को अस्पताल ले जाएंगी।

ग्रामीण विकास

-       सीवान, भठिंडा एवं गुना, मध्य-प्रदेश के रूठियाई गांवों में सौर लाइटों की स्थापना

-       भठिंडा के सीवान गाँव में मौजूदा पीने के पानी की व्यवस्था को नवीनीकृत करके सुरक्षित पीने के पानी की व्यवस्था

-       मध्य-प्रदेश के दूरस्थ गांवों में आंगनवाड़ियों का निर्माण

भारत निर्माण में उर्जा की कमी को और विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों मे देश को रोशन करने के लिए नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड ने कई योजनाएं कार्यविन्त की हैं। इस योजना के तहत, भठिंडा (पंजाब), पानीपत, (हरियाणा), गुना (मध्य-प्रदेश) में 200 से अधिक सौर लाईटों की स्थापना की गई। इसके अतिरिक्त कम्पनी नें जिला पूर्णिया (बिहार) एवं जिला भदोई (उत्तर-प्रदेश) में 50 सौर लाईट स्थापित करने के लिए एक योजना लागू करने जा रही है।

कंपनी के भठिंडा संयंत्र के पास स्थित सीवान ग्राम में शुद्ध पेयजल की मूलभूत आवश्यकता को पूरा करने के लिए, कंपनी कारपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व योजना के अंतर्गत इस क्षेत्र में जलकार्य परियोजना पर कार्य कर रही है। ग्रामवासियों को दूषित पानी के कारण साफ पीने के पानी से वंचित रहना पड़ता है।कम्पनी के इस प्रयास से 12000 निवासी लाभांवित होंगे।

नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड द्वारा बच्चों की देखभाल एवं माताओं की सुरक्षा के विकास कार्यक्रम प्रोत्साहन हेतु कंपनी ने मध्य-प्रदेश के पीपलिया, आवन, साड़ा कॉलोनी, कोलुआ, पाड़रखेड़ी एवं कर्माखेड़ी गांवों में 06 आंगनवायों का निर्माण किया। पूर्व में आंगनवाड़ी खुले में चल रहीं थीं, जिसके फलस्वरूप आंगनबाड़ी से संबंधित सामग्री जैसे - आवश्यक दवाईयां इत्यादि को खुले में रखा जाता था। कम्पनी की पहल से आंगनवाडी रोजाना अधिक से अधिक लोगों को लाभ पहुंचा रही है। इन केन्द्रों पर स्तनपान कराने वाली माताओं को स्वास्थ्य एवं खान-पान से संबंधित शिक्षा तथा सलाह दी जाती है। इसके साथ ही यहाँ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के कर्मचारियों को स्वास्थ्य सुविधाओं के कार्यान्वयन कार्यक्रम के संचालन जैसे - टीकाकरण, स्वास्थ्य की जाँच और प्रसव-पूर्व जाँच के लिए सुविधा प्रदान की जाती है।

कौशल विकास

-       पंजाब में नंगल के गावों में महिलाओं के लिए सिलाई, कढ़ाई एवं श्रंगार कला के प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए गए।

-       नई दिल्ली के बाहरी देहाती क्षेत्र के गांव किरारी सुलेमान नगर, करन विहार, के युवाओं को हार्डवेयर तकनीकी पर कौशल विकास कार्यक्रम में प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

कम्पनी युवाओं के कौशल विकास पर काफी जोर दे रही है। कम्पनी, विशेषकर महिलाओं का कौशल विकास कर, उन्हें आजीविका प्रदान करने के उद्देश्य से विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करती रहती है। इसके अन्तर्गत, नंगल (पंजाब) में महिलाओं के लिए कई प्रशिक्षण कार्य जैसे - सिलाई-कढ़ाई, सौंदर्य कला कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। कंपनी पिछले कई वर्षों से ऐसे कार्यक्रम चला रही है। इसके अतिरिक्त, भठिंडा (पंजाब) में कम्प्यूटर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए गए। जिससे 80 से अधिक युवा लाभाविन्त हुए।

वर्तमान में कम्पनी द्वारा 120 बेरोजगार युवकों को हार्डवेयर तकनीक में प्रशिक्षित करने हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इन युवकों को पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद निश्चित रूप से रोजगार मिलने में सहायता होगी।

कार्यक्रमों द्वारा रोजगार के साथ ही लाभार्थियों को स्व-रोजगार के लिए तैयार करने पर बल दिया जाता है।

आपदा प्रबंधन

-       चेन्नई में बाढ़ राहत कार्य

नेशनल फर्टिलाइज़र्स लिमिटेड ने एक जिम्मेदारी कारपोरेट के रूप मे राष्ट्रीय एवं प्राकृतिक आपदाओं से प्रभावित जनता के लिए पुनर्वास की पहल का हमेशा समर्थन किया है। कंपनी ने मद्रास फर्टिलाइज़र्स के साथ मिलकर चेन्नई में आई बाढ़ से प्रभावित लोगों को भोजन के पैकेट, दवाईयों के साथ अन्य राहत व सुविधाएं प्रदान की हैं।



 

क्या नया है

Sign आयातित किसान डी०ए०पी० एवं एन० पी० के० की एम०आर०पी० मे कमी

Sign एनएफएल ने असम बाढ़ पीड़ितों की सहायतार्थ रु.1.5 करोड़ दान दिए

Sign एन.एफ.एल. इस वर्ष करेगी रुपए 13,500 करोड़ का कारोबार

Sign एन.एफ.एल. द्वारा ऐतिहासिक वित्तीय परिणाम की घोषणा

Sign एन.एफ.एल. में अम्बडेकर जयंिी का आयोजन

Sign एनएफएल ने 2018-19 में यूरिया उत्पादन का नया रिकार्ड स्थापित किया

Sign सचिव (उर्वरक) ने एन.एफ.एल. नंगल इकाई का दौरा किया

Sign एन.एफ.एल. में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया

Sign एनएफएल के वेतन संशोधन को सरकारी मंजूरी प्राप्त

Press Release एनएफएऱ न ेसरकार को रु. 39.95 करोड़ का अंतररम ऱाभांश प्रस् तुत यकया

Sign लोटस लेडीज वेफेयर क्लब, नोएडा वारा जरतमंद बच को सहायताथर् सामग्री िवतरण

Sign एन. एफ. एल. को िहदी के उपयोग के िलए िमला प्रथम पुरकार

Sign एफ़एनएल ने 2018-19 के नौमाह में 344 करोड़ रुपए का लाभ कमाया

Sign प्रैस विज्ञप्ति : एन.एफ.एल. ने मनाया 70वां गणतन्त्र दिवस

Sign प्रैस विज्ञप्ति : एन.एफ.एल. ने गवर्नेन्स नाउ पीएसयू अवार्ड प्राप्त किया

Sign Press Notice of Board Meeting

Sign Press Release : Signing of Loan Agreement with State Bank of India

Sign प्रेस विज्ञप्ति - एनएफएल "आईएफए उत्‍कृष्‍टता पुरस्‍कार" से सम्मानित

Sign प्रेस विज्ञप्ति : 2018-19 प्रथम छमाही में एनएफएल का लाभ 24% की बढ़ौतरी के साथ, 178 करोड़ पहुंचा

Sign एन.एफ.एल. को मिला राजभाषा (हिंदी) प्रयोग के लिए तृतीय पुरस्कार

Sign 14th सितम्बर, हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में माननीय अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक का संदेश

Signप्रैस विज्ञप्ति - एनएफएल में स्वच्छता पखवाडे का शुभारंभ 

Signआर एफ सी एल उत्पादनों के वितरण के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया जाना 

Signएन.एफ.एल का पहली तिमाही में 66% लाभ बढा 

Signप्रैस विज्ञप्ति : एन.एफ.एल. ने जीता सर्वश्रेष्ठ पीएसयू पुरस्कार 

Signप्रैस विज्ञप्ति : एन.एफ.एल. को मिला राजभाषा (हिन्दी) प्रयोग के लिए तृतीय पुरकार  

Signप्रैस विज्ञप्ति : एनएफएल द्वारा प्रायोजित पैरा एथलीटों ने राष्ट्रीय चैंपियनशिप में 6 पदक  

Signएनएफएल ने उर्वरक विभाग के साथ ज्ञापन समझौते पर हस्ताक्षर किए (2018-19) 

Signप्रेस नोट - एन.एफ.एल. हिन्दुस्तान पीएसयू अवार्ड 2018 से सम्मानित 

Signस्वच्छ भारत समर इंटर्न