wink.pink

हरित पहल

ग्‍लोबल वार्मिंग के विभिन्‍न मुद्दों के समाधान के लिए देश के प्रयास के अनुरूप, एनएफएल भी ऊर्जा में कमी, अवशिष्‍ट पदार्थों और शोधित बहि-स्राव के पुन:चक्रण और ऊर्जा के नवीकरणीय और कुशल स्रोतों के उपयोग की दृष्टि से कार्बन फुटप्रिंट्स में कमी लाने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। इस संबंध में, एनएफएल ने अपनी तीन ईंधन तेल आधारित संयंत्रों के फीड स्‍टॉक को ईंधन तेल से प्राकृतिक गैस में परिवर्तित करने के कार्य सफलतापूर्वक क्रियान्वयन कर लिया है, जो अत्‍यधिक ऊर्जा कुशल और पर्यावरण हितैषी ईंधन पर आधारित हैं। एनएफएल विजयपुर इकाई में ऊर्जा उपभोग में कमी लाने के लिए अनेक ऊर्जा संरक्षण योजनाएं कार्यान्वित कर रही है। विजयपुर इकाई में इन ऊर्जा संरक्षण योजनाओं के द्वारा, एनएफएल प्रतिदिन लगभग 216 Te कार्बन डाईऑक्‍साइड उत्‍सर्जन में कमी कर सकेगी। इसी प्रकार एनएफएल पानीपत और बठिंडा इकाइयों के यूरिया संयंत्रों के पुनर्निमाण द्वारा इन संयंत्रों के ऊर्जा उपभोग में कमी लाने की दिशा में भी अग्रसर है।

इसके अतिरिक्‍त पारिस्थितिक रूप से सतत विकास को प्रोत्साहित करने के लिए, एन एफ एल  अपने नंगल, बठिंडा और पानीपत स्थित इकाइयों में ऊर्जा उत्पादन के लिए अधिक स्‍वच्‍छ ईंधन अर्थात प्राकृतिक गैस का उपयोग करके, ऊर्जा उपभोग और कार्बन डाइऑक्‍साइड के उत्‍सर्जन में कमी लाने के लिए एचआरएसजी (हीट रिकवरी स्‍टीम जेनरेशन यूनिट्स) के साथ-साथ जीटीजी (गैस टर्बो जेनरेटर) स्थापित कर रहा है जहां वर्तमान में ऊर्जा उत्‍पादन के लिए कोयले का उपयोग हो रहा है। नंगल, बठिंडा और पानीपत में इन जीटीजी के चालू होने के बाद, इन तीन इकाइयों का कुल कार्बन डाइऑक्‍साइड उत्‍सर्जन लगभग 1152 Te प्रतिदिन कम हो जाएगा।


एनएफएल अनेक अन्य सतत विकास कार्यक्रम भी इसी क्रम में चला रहा है, जिसमें वनरोपण, सौर ऊर्जा का उपयोग, जल संरक्षण, सीमेंट कम्‍पनियों के लिए फ्लाई ऐश की बिक्री शामिल हैं। एनएफएल ने विजयपुर इकाई में उत्सर्जित गैस से कार्बन डाईऑक्‍साइड की रिकवरी यूनिट स्थापित की है, जिससे450 Te प्रतिदिन ग्रीन हाउस उत्‍सर्जन के समतुल्‍य कार्बन डाईऑक्‍साइड की रिकवरी हो रही है।

एनएफएल उन कुछ प्रथम कम्‍पनियों में शामिल है, जिन्‍होंने बाजार में वाणिज्यिक रूप से नीम लेपित यूरिया लांच किया है जो एक इको-फ्रेंडली उत्‍पाद है और इससे फसलों की उपज में सुधार होता है। एनएफएल में विभिन्‍न मंचों से समय-समय पर सभी संबंधित पक्षों से ऊर्जा संरक्षण करने और उनके अपने-अपने कार्यक्षेत्रों में लागत के उपभोग में कमी करने के उपाय करने की अपील की जाती है।

कागज के उपभोग में बचत की दिशा में एक छोटे से प्रयास के रूप में, एनएफएल सभी इकाइयों और कॉरपोरेट कार्यालय में ईआरपी (एंटरप्राइज रिसोर्स प्‍लानिंग) सोफ्टवेयर का कार्यान्‍वयन करने की प्रक्रिया में है। यह कागजरहित कामकाज की दिशा में एक कदम है और इससे कागज के उपभोग में उल्‍लेखनीय कमी आएगी। इसके अतिरिक्‍त, एनएफएल की सभी इकाइयों और कार्यालयों से अनुरोध किया गया है कि वे डुप्लेक्स प्रिंटरों का प्रयोग करते हुए पृष्‍ठ के दोनों तरफ प्रिंटिंग को प्रोत्‍साहित करें और यदि डुप्लेक्स प्रिंटर नहीं हों तब भी, प्रयोक्‍ताओं से छोटे फॉंट्स का इस्‍तेमाल करते हुए पृष्‍ठ के दोनों तरफ प्रिंटिंग की आदत डालने का अनुरोध किया गया है ताकि पूरी कम्‍पनी में कागज के उपभोग में कटौती की जा सके। कागज और अन्‍य उपभोग्‍य सामग्री के उपभोग में कमी लाने के लिए ई-मेल का अधिकाधिक प्रयोग करने की सलाह भी दी गई है।


कम्‍पनी ने अनेक पर्यावरण विकास कार्यक्रम चलाए हैं जैसे वर्षाजल संग्रहण, स्‍टॉप डैम, सेडीमेंटेशन टैंक के माध्‍यम से जल संरक्षण, और साथ ही अपने गोद लिए हुए गांवों में हजारों की संख्‍या में वृक्षारोपण भी किया है। कम्‍पनी कार्बन फुट प्रिंट्स को कम करने के लिए गैर-पारम्‍परिक ऊर्जा स्रोतों को भी प्रोत्‍साहित कर रही है।


जल संरक्षण

  • तलछट (सेडीमेंटेशन) टैंकों का निर्माण।
  • मौजूदा जलाशयों का कायाकल्‍प और सुधार।
  • सिंचाई तालाबों के बेस्‍ट बीयर की ऊँचाई में वृद्धि करना।
  • छतों पर वर्षाजल संग्रहण की सुविधाएं।

स्‍टॉप डैमों का निर्माण

  • इससे किसानों के साथ-साथ पशुओं के लिए साल भर पानी की उपलब्‍धता में सुधार हुआ है।
  • फसलों का उत्‍पादन बढ़ा है जिसके परिणामस्‍वरूप किसानों की आय में वृद्धि हुई है। आगे चलकर इसकी वजह से गांवों से पलायन पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी।
  • दोहरी फसल और सब्‍जी का उत्‍पादन आरंभ हुआ है।

सामाजिक वानिकी

  • इकाइयों के इर्द-गिर्द वातावरण में सुधार के लिए सभी इकाइयों में वनरोपण कार्यक्रम अपनाया गया है। विभिन्‍न इकाइयों में और आसपास कुल 20,000 पेड़ों की पौध लगाई गई हैं ताकि भावी पीढ़ी के लिए अधिक स्‍वच्‍छ और हरित पृथ्‍वी छोड़ी जा सके।
  • शुरु से अब तक सभी इकाइयों में संचित वृक्षारोपण लगभग 8 लाख रहा है।

गैर-पारम्‍परिक ऊर्जा स्रोतों को प्रोत्‍साहित करना

  • कम्‍पनी कार्बन फुट प्रिंट्स को कम करने के लिए गैर-पारम्‍परिक ऊर्जा स्रोतों को भी प्रोत्‍साहित कर रही है और गांवों में सोलर लाइटें भी लगाई गई हैं। इनका अनुरक्षण और निगरानीग्राम समुदाय की भागीदारी के माध्‍यम से किया जा रहा है।

हम जिस दुनिया में रह रहे हैं उसमें सुधार लाने की दिशा में प्रतिबद्ध हैं। हम सतत विकास में योगदान देने के लिए प्रयासरत हैं। कम्‍पनी का प्रयास समाज के समग्र विकास के लिए अपनी गतिविधियों के जरिए सकारात्‍मक प्रभाव लाने का है।

 

क्या नया है

Sign एनएफएल ने लगातार दूसरे वर्ष डी एण्ड बी अवार्ड्स 2019 में सर्वश्रेष्ठ उर्वरक पीएसयू अवार्ड जीता

Sign आयातित किसान डी०ए०पी० एवं एन० पी० के० की एम०आर०पी० मे कमी

Sign एनएफएल ने असम बाढ़ पीड़ितों की सहायतार्थ रु.1.5 करोड़ दान दिए

Sign एन.एफ.एल. इस वर्ष करेगी रुपए 13,500 करोड़ का कारोबार

Sign एन.एफ.एल. द्वारा ऐतिहासिक वित्तीय परिणाम की घोषणा

Sign एन.एफ.एल. में अम्बडेकर जयंिी का आयोजन

Sign एनएफएल ने 2018-19 में यूरिया उत्पादन का नया रिकार्ड स्थापित किया

Sign सचिव (उर्वरक) ने एन.एफ.एल. नंगल इकाई का दौरा किया

Sign एन.एफ.एल. में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया

Sign एनएफएल के वेतन संशोधन को सरकारी मंजूरी प्राप्त

Press Release एनएफएऱ न ेसरकार को रु. 39.95 करोड़ का अंतररम ऱाभांश प्रस् तुत यकया

Sign लोटस लेडीज वेफेयर क्लब, नोएडा वारा जरतमंद बच को सहायताथर् सामग्री िवतरण

Sign एन. एफ. एल. को िहदी के उपयोग के िलए िमला प्रथम पुरकार

Sign एफ़एनएल ने 2018-19 के नौमाह में 344 करोड़ रुपए का लाभ कमाया

Sign प्रैस विज्ञप्ति : एन.एफ.एल. ने मनाया 70वां गणतन्त्र दिवस

Sign प्रैस विज्ञप्ति : एन.एफ.एल. ने गवर्नेन्स नाउ पीएसयू अवार्ड प्राप्त किया

Sign Press Notice of Board Meeting

Sign Press Release : Signing of Loan Agreement with State Bank of India

Sign प्रेस विज्ञप्ति - एनएफएल "आईएफए उत्‍कृष्‍टता पुरस्‍कार" से सम्मानित

Sign प्रेस विज्ञप्ति : 2018-19 प्रथम छमाही में एनएफएल का लाभ 24% की बढ़ौतरी के साथ, 178 करोड़ पहुंचा

Sign एन.एफ.एल. को मिला राजभाषा (हिंदी) प्रयोग के लिए तृतीय पुरस्कार

Sign 14th सितम्बर, हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में माननीय अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक का संदेश

Signप्रैस विज्ञप्ति - एनएफएल में स्वच्छता पखवाडे का शुभारंभ 

Signआर एफ सी एल उत्पादनों के वितरण के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया जाना 

Signएन.एफ.एल का पहली तिमाही में 66% लाभ बढा 

Signप्रैस विज्ञप्ति : एन.एफ.एल. ने जीता सर्वश्रेष्ठ पीएसयू पुरस्कार 

Signप्रैस विज्ञप्ति : एन.एफ.एल. को मिला राजभाषा (हिन्दी) प्रयोग के लिए तृतीय पुरकार  

Signप्रैस विज्ञप्ति : एनएफएल द्वारा प्रायोजित पैरा एथलीटों ने राष्ट्रीय चैंपियनशिप में 6 पदक  

Signएनएफएल ने उर्वरक विभाग के साथ ज्ञापन समझौते पर हस्ताक्षर किए (2018-19) 

Signप्रेस नोट - एन.एफ.एल. हिन्दुस्तान पीएसयू अवार्ड 2018 से सम्मानित 

Signस्वच्छ भारत समर इंटर्न